//हथनी कुंड बैराज से 8 लाख क्यूसेक से ज्यादा पानी छोड़े जाने से दिल्ली में बाढ़ का खतरा मंडराया

हथनी कुंड बैराज से 8 लाख क्यूसेक से ज्यादा पानी छोड़े जाने से दिल्ली में बाढ़ का खतरा मंडराया

हथनी कुंड बैराज से 8 लाख क्यूसेक से ज्यादा पानी छोड़े जाने से दिल्ली में बाढ़ का खतरा मंडराया बाढ़ से बचने के लिए प्रशाशन ने शुरू की त्यारी लेकिन कई जगहो पर नही पहुच पा रहा प्रशाशन लोग खुद घरों को कर रहे है खाली

हथनीकुंड बैराज से 8 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद दिल्ली में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है बाढ़ के खतरे को देखते हुए दिल्ली सरकार और प्रशाशन सतर्क हो गया है जगह जगह मिट्टी को बोरे में भरा जा रहा है और दीवार बनाई जा रही है आई एस बी टी के पास कुदसिया घाट युद्ध स्तर पर बोरो में मिट्टी भरी जा रही है और बाढ़ का पानी रोड पर नही आये इसके लिए रेत की दीवार बनाई जा रही है वही बिजली विभाग के लोग भी यमुना के आस पास लगातार निगरानी बनाये हुए है अगर पानी आ जाता है तो उस स्थिति में वो बिजली काट देगे ताकि पानी मे करंट नही फैले
बाढ़ को लेकर प्रशाशन युमना के किनारे बसे लोगो को जल्द से जल्द खाली करने के आदेश दे दिए है लेकिन उनको प्रशाशन की तरफ से कोई मदद नही मिल रही है युमना किनारे बसे लोग खुद घरों को जान हथेली पर रख कर समान निकाल रहे है आई टी ओ पर बसी युमना किनारे झुगियो के लोग लकड़ी के टूटे हुए छोटे से पुल जो जगह जगह से टूटा हुआ है उस पर से अपना सामान लेकर जा रहे है